आज जिस तरह विश्व बदल रहा है उसके अगर फायदे हो रहे हैं तो कुछ बहुत बड़े नुकसान भी उठाने पड़ रहे हैं. आज अनेक तरह की नयी बीमारियाँ, ग्लोबल वॉर्मिंग और प्राकृतिक आपदा जैसी समस्याएं पैदा हो रही है. ऐसे में सभी चाहते हैं हम और हमारे परिवार वाले स्वस्थ और सुरक्षित रहे. कोरोना की समस्या के बाद सभी को एक बात समझ आ गई है की हर समय कुछ रुपए बचत के रूप में हमारे पास होने चाहिए जिससे अगर कलको कोई मेडिकल एमर्जेन्सी आ जाए तो उससे निपटा जा सके.

रुपए की कमी पर क्या करना चाहिए?

अगर आपके घर में किसी की तबियत ख़राब हो जाती है और आपको तत्काल रुपए की ज़रूरत पड़ती है तो ऐसे में आपके पास जो बचत है उसका इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन अगर आपके पास कोई भी सेविंग्स नहीं है और आपके जानने वाले भी किसी कारणवश उस समय आपकी मदद नहीं कर पा रहे हैं तो ऐसे में आप मेडिकल इमरजेंसी लोन का सहारा ले सकते हैं. इस लोन की मदद से आप डॉक्टर की फीस, और बाकि हर तरह के मेडिकल बिल को भर सकते हैं. ऐसी स्थिति में आपको तत्काल लोन की ज़रूरत होगी जिसके लिए आप पर्सनल लोन ऐप का सहारा ले सकते हैं जिससे आपको बहुत जल्दी रुपए मिल जाते हैं.

लोन चाहिए अर्जेंट, कैसे करें अप्लाई?

आज मार्किट में बहुत से बैंक और प्राइवेट एजेंसीज हैं जो पर्सनल लोन देती है लेकिन अब आपको उनके पास भी जाने की ज़रूरत नहीं है, आप घर बैठे अपने स्मार्टफोन से पर्सनल लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं. ये सब और भी आसान हो जाता है अगर आप Paysense के पर्सनल लोन ऐप से लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो. बस आपको अपनी एलिजबलिटी चेक करनी है और KYC करवाना है. दो दिन में आपके डाक्यूमेंट्स अप्रूव हो जाते हैं और उसके बाद 2 से 4 दिन में आपके पसंद के बैंक खाते में आपके लोन की रकम आ जाती है.

क्या है पात्रता?

Paysense ऐप की मदद से अगर आप लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो उसके लिए कुछ डाक्यूमेंट्स का होना ज़रूरी है और उससे भी पहले कुछ मानदंड हैं जो अगर आप पूरे करते हैं तो आप लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं. ये आप Paysense के ऐप या वेबसाइट पर जाके खुद भी चेक कर सकते हैं. लाभार्थी का भारतीय नागरिक होना आवश्यक है, लाभार्थी का कोई इनकम सोर्स होना चाहिए, लाभार्थी की उम्र 21 वर्ष से लेकर 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए. अगर ये सारी योग्यताएं आप पूरा करते हैं तो आपको लोन मिल सकता है. आप परिवार के किसी भी सदस्य के नाम पर लोन ले सकते हैं जो इन शर्तों को पूरा करता हो. इसके बाद जिन डाक्यूमेंट्स की ज़रूरत होती है उनमे आपके पास एक ID प्रूफ़ ( पैन कार्ड, आधार कार्ड), एड्रेस प्रूफ़ ( रेंट एग्रीमेंट, आधर कार्ड ), इनकम प्रूफ़ ( बैंक स्टेटमेंट) और एक या दो फोटो होनी चाहिए. आप चाहें तो ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और चाहें तो एक एजेंट आपके घर आकर KYC कर देगा आपको कहीं जाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

एक बार डॉक्यूमेंट पूरे होने के बाद कुछ घण्टों में Paysense उन्हें जांचकर आपका लोन अप्रूव कर देगा और आपको आपकी पसंद के खाते में कुछ दिनों में लोन मिल जाएगा। EMI भी इसी खाते से आपकी सुविधा अनुसार लिया जाएगा।

मेडिकल इमरजेंसी के तौर पर पर्सनल लोन लेने के फायदे

  1. पर्सनल लोन का सबसे पहला फायदा होता है की इसका इस्तेमाल आप कहीं भी कर सकते हैं और अगर आपके घर में कोई मेडिकल इमरजेंसी है तो ये लोन लेकर आप अपने परिजन की मदद कर सकते हैं.
  2. इस लोन में आपको किसी गेरेंटर की ज़रूरत नहीं होती और न ही आपको कोई चीज गिरवी रखनी होती है. आपकी आय के आधार पर आपको लोन बहुत ही आसानी से दे दिया जाता है.
  3. इसमें आपको बाकि लोन की तरह कई तरह के कागज़ी काम नहीं करने होते जिसमें काफी समय भी बर्बाद होता है और न ही आपको बैंक की लम्बी लाइन में लगना पड़ता है. सारा काम घर बैठे बैठे हो जाता है और दो से चार दिन के अंदर रुपए आपके बैंक खाते में आ जाते हैं.
  4. अगर आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा है तो इसमें आपको कम ब्याजदर की सुविधा भी मिल जाती है. और अगर आप पहली बार लोन ले रहे हो तो आप अपनी आय, लोन की राशि और कितने समय के लिए लोन ले रहे हो उसके आधार पर ब्याज की दर घटवा सकते हैं.
  5. इस प्रकार के लोन में एक फायदा यह भी है की आप अपने अनुसार EMI की राशि चुन सकते हैं जिससे हर महीने आपके बैंक खाते से रुपए कट जाते हैं और आपकी जेब पर ज्यादा बोझ नहीं पड़ता. और अगर आपके पास जल्दी रुपए का इंतज़ाम हो जाता है तो आप फोरक्लोज़र फीस देकर बाकि के ब्याजदरों से बच सकते हैं.

इस तरह मेडिकल इमरजेंसी लोन के रूप में अगर आप ये लोन लेते हैं तो आप अपने मेडिकल बिलों को आसानी से मैनेज कर सकते हैं और अपने परिजनों के स्वास्थ्य को सुरक्षित रख सकते हैं.